pharmacy test series

Articles

इंटरव्यू का मतलब साक्षात्कार होता है। इसके अंतर्गत किसी भी व्यक्ति से साक्षात मिला जाता है तथा मिलकर उसकी बुद्धिमत्ता, कार्यक्षमता तथा व्यवहार कुशलता का भली भाँति आंकलन किया जाता है।

क्लिनिकल ट्रायल्स दवाइयों से सम्बंधित ऐसी साइंटिफिक स्टडी होती है जिसमे उनके प्रभाव, गुण, उपयोग तथा क्षमताओं का जानवरों तथा मनुष्यों पर अध्ययन किया जाता है।

फार्मेसी यानि भेषज विज्ञान दवाओं से सम्बंधित पढाई है जिसमे दवाओं के निर्माण से लेकर उनके रखरखाव, वितरण आदि के विषय में विस्तृत ज्ञान दिया जाता है। दवाओं के निर्माण, भण्डारण और वितरण के अतिरिक्त उससे जुड़े व्यापार और कार्य के बारे में भी सिखाया जाता है।

जीपेट यानि ग्रेजुएट फार्मेसी एप्टीट्यूड टेस्ट एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है जिसे आल इंडिया कौंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई), मिनिस्ट्री ऑफ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट (एमएचआरडी) के निर्देशों के आधार पर हर वर्ष आयोजित करवाती है। यह एक ऐसी प्रवेश परीक्षा है जिसे सम्पूर्ण भारत के विभिन्न फार्मेसी संस्थानों के फार्मेसी ग्रेजुएट्स, एम फार्मा कोर्स में प्रवेश लेने के लिए देते हैं।

आईईएलटीएस यानि इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्टिंग सिस्टम उन लोगों की इंग्लिश में निपुणता को जाँचने का पैमाना है जिनको उन देशों में पढ़ाई या फिर काम करने के लिए जाना है जहाँ इंग्लिश ही बोलचाल का माध्यम है।

जेनेरिक दवाओं के उत्पादन में भारत का विश्व में प्रथम स्थान है। बढ़ते-बढ़ते भारत का दवा बाजार विश्व के कुल दवा बाजार का साढ़े तीन प्रतिशत के लगभग हिस्सेदार हो गया है।

फार्मेसी का मतलब भेषज विज्ञान है जिसमे विद्यार्थियों को दवाइयों के निर्माण, भण्डारण तथा वितरण की सम्पूर्ण जानकारी दी जाती है। आधुनिक युग में दवाइयाँ इंसान के लिए जीवन रेखा है तथा बिना दवाइयों के जीवन को सुखमय जीना बहुत मुश्किल हो गया है। हर इंसान कहीं न कहीं, किसी न किसी रूप में दवाइयों का सेवन कर रहा है।

पिछले काफी वक्त से सोशल मीडिया, व्हाट्सएप्प, ई-मेल और एसएमएस के द्वारा यह सूचना काफी हद तक फैल रही है कि भारत सरकार ने फार्मासिस्टों को फार्मा क्लिनिक खोलने की अनुमति प्रदान कर दी है तथा यह अनुमति फार्मेसी प्रैक्टिस रेगुलेशन्स, 2015 के अंतर्गत प्रदान की गई है।

मैं एलोपैथिक डॉक्टर नहीं पर एनाटॉमी और फार्माकोलॉजी जानता हूँ
मैं आयुर्वेदिक डॉक्टर नहीं हूँ पर फार्माकोग्नॉसी और हर्बल ड्रग्स जनता हूँ
मैं पैथोलोजिस्ट नहीं हूँ पर बायोकेमिस्ट्री जानता हूँ
मैं एनालिस्ट नहीं हूँ पर एनालिटिकल केमिस्ट्री जानता हूँ
लोगों मुझे पहचानों मैं फार्मासिस्ट हूँ।

जन औषधि योजना एक ऐसा अभियान है जिसे डिपार्टमेंट ऑफ फार्मास्युटिकल्स और सेंट्रल फार्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग्स ने संयुक्त रूप से लॉन्च किया है ताकि आमजन को गुणवत्तापूर्ण दवाइयाँ सस्ती कीमत पर मिल सके।

एम.पी.जे.ई. यानि मल्टीस्टेट फार्मेसी जुरिस्प्रुडेन्स एग्जामिनेशन, फार्मासिस्टों के फार्मेसी प्रैक्टिस सम्बन्धी ज्ञान और क्षमता को परखने के लिए ली जाने वाली परीक्षा है। यह परीक्षा अमेरिका जाकर वहाँ पर फार्मेसी क्षेत्र में कार्य करने के लिए पास करनी होती है।

नाप्लेक्स यानि नार्थ अमेरिकन फार्मासिस्ट लाइसेंसर एग्जामिनेशन, फार्मासिस्टों के फार्मेसी प्रैक्टिस सम्बन्धी ज्ञान और क्षमता को परखने के लिए ली जाने वाली परीक्षा है। यह परीक्षा अमेरिका जाकर वहाँ पर फार्मेसी क्षेत्र में कार्य करने के लिए पास करनी होती है।

फार्मासिस्ट एक अदभुद शब्द है जो कि दवा विशेषज्ञ की पहचान है। वर्तमान में यह उपाधि फार्मेसी क्षेत्र में दो वर्षीय डिप्लोमा और चार वर्षीय डिग्री धारक को प्रदान की जाती है। इस उपाधि को धारित व्यक्ति दवा से सम्बंधित सभी क्षेत्रों में विशेषज्ञ समझा जाता है। फार्मासिस्ट को दवा के निर्माण से लेकर उसके भंडारण और वितरण में जिम्मेदारीपूर्वक अहम भूमिका निभानें के लिए तैयार किया जाता है।

क्या फार्मेसी का विद्यार्थी आईएएस बन सकता है?

क्या फार्मेसी का विद्यार्थी आईएएस बन सकता है? - “Bhagyashree Vispute had topped all four years of B.Pharm exams before cracking UPSC CSE 2016” ये खबर पुरानी है और भाग्यश्री ने अब जिला कलेक्टर बनकर कार्यभार भी संभाल लिया है. हर वर्ष काफी लोग इस परीक्षा को पास करते हैं और उन्हें नियुक्ति भी मिल जाती है, तो फिर इस खबर में ऐसा नया क्या है कि इसका जिक्र यहाँ किया जा रहा है?

फार्मेसी के गिद्ध

फार्मेसी के गिद्ध - जब से बिहार में एक लाइलाज बीमारी के कारण बहुत से बच्चों की मृत्यु हुई है तबसे गिद्ध शब्द बहुत प्रचलन में है. दरअसल यह शब्द इस दुखद घटना पर मीडिया की रिपोर्टिंग को लेकर है.

फार्मेसी की शिक्षा का वास्तविक और कड़वा सच

फार्मेसी की शिक्षा का वास्तविक और कड़वा सच - इंजीनियरिंग, मेडिकल, होमियोपैथी, नर्सिंग आदि की तरह फार्मेसी भी स्वास्थ्य सम्बन्धी शिक्षा की एक बहुत बड़ी शाखा है। विदेशों में फार्मेसी शाखा का अपना एक अलग ही रुतबा और सम्मान है तथा जनमानस में इसकी काफी गहरी पहुँच है। विदेशों में फार्मासिस्ट को दवा विशेषज्ञ के रूप में बहुत नाम और इज्जत मिलती है।

डॉक्टर, वकील की तरह अब रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट भी देश भर में मोनोग्राम का उपयोग कर सकेंगे। भारत में फार्मासिस्टों के लिए कोई मोनोग्राम नहीं था।